नेटवर्क एवं प्रौद्योगिकी (एनटी) प्रकोष्ठ

  • Modified by networks on 06.08.2016

    Networks &Technologies (NT) Cell

    सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकियों (आईसीटी) को विश्वभर में सरकारों द्वारा सामाजिक-आर्थिक विकास के महत्वपूर्ण परिचालकों के रूप में स्वीकार किया गया है। सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकियां सर्व-व्यापक हो गई हैं तथा हमारी अर्थव्यवस्थाओं, समाजों और जीवन को रूपांतरित कर रही हैं। ये प्रौद्योगिकियां, नई सेवाओं और अनुप्रयोगों के प्रति सदैव विस्तृत होती उम्मीदों के साथ गति बनाए रखने के लिए तीव्र गति से प्रगति करती रहती हैं। इनकी गति इतनी तीव्र होती हैं कि प्रौद्योगिकी परिदृश्य प्रत्येक कुछ ही वर्षों में रूपांतरित हो जाता है।

    दूरसंचार विभाग का नेटवर्क और प्रौद्योगिकी (एनटी) प्रकोष्ठ,जो 2010 में अस्तित्व में आया है, देश में नई एवं उभरती प्रौद्योगिकियों से संबंधित नीति एवं विनियामक पहलुओं से संबंधित कार्य करता है। दूरसंचार विभाग मुख्यालय स्थित एनटी प्रकोष्ठ के प्रयासों में देश भर में फैली एनटी की फील्ड यूनिटें सहायताकरती हैं। इस समय प्रकोष्ठ के प्रमुख कार्यों में निम्नलिखित शामिल हैं:

    • नेक्स्ट जेनरेशन इंटरनेट प्रोटोकाल अर्थात् आईपीवी6 में चरणबद्ध और समयबद्ध तरीके से अवस्थांतर हेतु नीति निर्माण तथा उसे सुविधाजनक बनाना।
    • मशीन से मशीन (एम2एम) संचार से जुड़े नीति एवं विनियामक पहलु।
    • नेट-तटस्थता से उद्भूत नीति एवं तकनीकी मुद्दे।
    • एनटीपी-2012 के अनुसार क्लाउड कम्प्यूटिंग के संबंध में नीतिगत पहल।

    इसके अतिरिक्त, एनटी प्रकोष्ठ, उभरती हुई प्रौद्योगिकियों, जैसे टीवी व्हाइट स्पेस (टीवीडब्ल्यूएस), लाइट फिडलिटी (एलआईएफआई) आदि जो देश की दूरसंचार ईको-पद्धति के लिए लाभदायक हैं, के क्षेत्र में होने वाले वैश्विक विकास पर निगाह रखता है।

आईपीवी6

आज इंटरनेट विश्वभर में अरबों प्रयोक्ताओं को सेवाएं देने वाला एक वैश्विक नेटवर्क बन गया है और ऐसा इंटरनेट प्रोटोकाल की व्यापक स्वीकार्यता के कारण हुआ है। .........

एम2एम

मशीन से मशीन संचार, जिसे प्रायः एम2एम/आईओटी का नाम दिया जाता है, अगली पीढ़ी की इंटरनेट क्रांति बनने वाली है जो अधिकाधिक लोगों को जोड़ने.........

नेट-तटस्थता

विगत में, इंटरनेट की पहुंच में भारी वृद्धि, जो एक ओर देश के प्रत्येक कोने तक उपलब्ध कराई गई सर्वव्यापी दूरसंचार अभिगम्यता के माध्यम से संभव हुई है और एक जीवंत कन्टेंट.........

क्लाउड कम्प्यूटिंग

राष्ट्रीय दूरसंचार नीति (एनटीपी)-2012 में सार्थक रूप से डिज़ाइन की गति बढ़ाने तथा सेवाओं के रॉल-ऑउट में क्लाउड सेवाओं के महत्व को मान्यता.........

Open Feedback Form
CAPTCHA
This question is for testing whether or not you are a human visitor and to prevent automated spam submissions.
Image CAPTCHA
Enter the characters shown in the image.